• Things to do
  • Places to visit
  • Hotels and resorts
  • Honeymoon packages
  • Holiday packages
  • Real Traveler Stories

    उदयपुर दर्शनीय स्थल

    उदयपुर भारत का ऐसा शहर जो उत्कृष्ट और शानदार महलों के लिए प्रसिद्ध है। अगर आप उदयपुर दर्शनीय स्थल की यात्रा करने आऐंगे तो, यकीनन आपको कुछ समय के लिए राजा-महाराजाओं जैसा आभास होने लगेगा। मनोरम सौंदर्य से लोभित नज़ारा आपके मन को एक ऐसी स्मृति से भर देगा जिसे आप चाहकर भी भुला नहीं पाएंगे।

    20 उदयपुर दर्शनीय स्थल

    उदयपुर में मौजूदा राजस्थानी संस्कृति में रंग जाने का एहसास आपको अपनी ओर खींचकर ले आएगा। आइए अब उदयपुर दर्शनीय स्थल की सूची पर ध्यान एकत्रित करें:

    1. पिचोला झील (Pichola Lake)

    पिचोला झील

    वैसे तो यह एक कृत्रिम झील है पर इसका प्राकृतिक दृश्य देखकर आपको यह किसी वास्तविक झील से कम नहीं लगेगी। संध्या के समय नाव की सवारी किए बिना आपकी यह यात्रा अधूरी है क्योंकि, इस सवारी से आपको एक अनोखा नज़ारा देखने मिलेगा। शाम के वक्त इमारतों और पानी पर पड़ती सूरज की किरणों से हर तरफ का नज़ारा सुनहरा हो उठता है और आप इसकी शोभा देखकर मोहित हो जाएंगे। प्रकृति प्रेमियों को ये जगह भा जाएगी।

    और जानें: Places To Visit In Udaipur


    Rajasthan Holiday Packages On TravelTriangle

    Explore Rajasthan, the land of Maharajas. Experience its royal cultural heritage, luxurious hotels, camel safaris, pristine lakes, and magnificent forts and palaces. Cover the best of Jaipur, Udaipur, Jodhpur, Jaisalmer, Pushkar and Ranthambhore at best prices with TravelTriangle.


    2. सिटी पैलेस (City Palace)

    सिटी पैलेस

    पिचोला झील के किनारे बसे इस महल को राजस्थान का सबसे बड़ा महल माना जाता है। बड़े-बड़े आलीशान कमरे, हैंगिंग गार्डन, संग्राहलय आपको एक उच्च कोटी के राज घराने का एहसास कराऐंगे। महल की अद्भुत मूर्तियां और रंग-बिरंगी तस्वीरें आपको नये ढंग से इसके इतिहास से परिचय कराएगी। अगर आप प्राचीन काल के विषय में जानने के इच्छुक हैं तो आप यहाँ आकर महाराना उदय सिंह के बारे में जानकर अपनी जानकारी में वृद्धि कर सकते हैं।

    और जानें: Shopping In Udaipur

    3. सज्जनगढ़ पैलेस (Sajjangarh Palace)

    Sajjangarh Palace in Udaipur

    उदयपुर की सरहद पर बसा यह महल मेवाड़ वंश का स्थल है। इस महल का नाम इसके संरक्षक महाराना सज्जन सिंह के नाम पर पड़ा। यह महल अरावली की पहाड़ियों की ऊँचाई पर बनाया गया ताकि मानसून के बादलों का पता लगाया जा सके और यही कारण हैं कि इसे मानसून महल भी कहा जाता है। इतनी ऊँचाई पर बसे होने के कारण आप यहाँ से पूरे शहर का दृश्य देख सकते हैं। ऊँचाई से शहर के टिमटिमाते छोटे-छोटे घर रात में इस दृश्य में चार चाँद लगा देंगे।

    4. फतह सागर झील (Fateh Sagar Lake)

    फतह सागर झील

    उदयपुर दर्शनीय स्थल में इस झील का नाम भी शुमार है। यह उदयपुर की दूसरी बड़ी झील है। इसकी असीम सुंदरता आपके मन को सुकून देगी, ऐसा सुकून जो आप कहीं और नहीं पा सकेंगे। खूबसूरती की चादर ओढे़ आपकी चाहत इस जगह के प्रति और बढ़ जाएगी। नाव में सैर और कई अन्य जल संबंधी खेल आपका भरपूर मनोरंजन करेंगे।इसे तीन भागों में बाँटा गया है जिसमें- नेहरू पार्क, नाव के आकार का रेस्टोरेंट, बच्चों के लिए ज़ू आदि शामिल है।

    और जानें: Street Food In Udaipur

    5. विन्टेज कार म्यूज़ियम (Vintage Car Museum)

    Vintage Car Museum

    उदयपुर के प्रसिद्ध दर्शनीय स्थल में महाराणा प्रताप के वंशजों द्वारा चलाया गया ये संग्राहलय भी सम्मिलित है। मेवाड़ के आलीशान राज घराने की झलक इसमें भरपूर दिखती है। कारों के कुछ ऐसे मॉडल आपको यहाँ देखने मिलेंगे जो बेहद अनूठे है।ये सभी कारें देखकर आप इस बात का अंदाज़ा बखूबी लगा सकते है कि राजा-महाराजा इनके बेहद शौकीन रहे होंगे। अगर आप कारों के प्रति अपने मन में उत्सुकता रखते हैं तो आपको यहाँ ज़रूर आना चाहिए क्योंकि ऐसे विलुप्त मॉडल अब आप कहीं और तो देख पाएंगे नहीं।

    और जानें: Hotels In Udaipur

    6. जगदीश मंदिर (Jagdish Temple)

    जगदीश मंदिर

    सिटी पैलेस में स्थित ये भगवान विष्णु का मंदिर है। मंझे हुए कलाकारों ने यहाँ की मूर्तियों को पत्थर पर इस प्रकार उकेरा है जैसे अभी ये बोल पड़ेंगी। यहाँ का शांतिपूर्ण वातावरण यात्रियों को अपनी ओर खींचता है। यहाँ की मुख्य मूर्ति जिसमें विष्णु को चार हाथों वाला बनाया गया है वो केवल एक ही काले पत्थर द्वारा बनाई गई है। इस मूर्ति को चार छोटी मूर्तियों ने घेर रखा है जो भगवान गणेश, सूर्य भगवान, शक्ति की देवी और शिव जी की है।

    7. दूध तलाई म्यूज़िकल गार्डन (Dudh Talai Musical Garden)

    दूध तलाई म्यूज़िकल गार्डन

    इसकी आधुनिक वास्तु कला और संगीतमय फव्वारा पूरे राजस्थान में आकर्षण का केंद्र है। लोग इसे दीनदयाल पार्क के नाम से भी जानते है। अगर आप यहाँ आकर एक मनोरम नज़ारा देखना चाहते है तो केबल कार में बैठकर सूर्यास्त का दृश्य देखिए जो आपको बेहद सुहाना लगेगा और यही कारण है कि यात्री इस जगह खिंचे चले आते है। यह हफ्ते के सातों दिन खुला रहता है तो, आप किसी भी दिन जाकर ढलते सूरज की तस्वीर अपने कैमरे में कैद कर सकते है।

    और जानें: Romantic Things To Do In Udaipur

    8. जैसामंद झील (Jaisamand Lake)

    झील

    यह देश की दूसरी सबसे बड़ी कृत्रिम झील है जो जैसामंद वन्य जीव अभ्यारण से घिरी हुई है। आप इस झील के चंचल पानी को स्पर्श करने के साथ-ही-साथ वन में मौजूद कुछ अनोखे जीव और घूमंतू पक्षियों को देखने का अवसर भी प्राप्त कर सकेंगे। सोचिए इस शांत माहौल में चिड़ियों की चहचहाहट कितने मधुर संगीत की तरह लगेगी। इस झील का निर्माण राजा जय सिंह द्वारा 17वीं शताब्दी में करवाया गया था।राजा द्वारा करवाया.गया यह कार्य बेहद तारीफ-ए-काबिल है।

    और जानें: A Guide To Udaipur In Monsoon

    9. गुलाब बाग व ज़ू (Gulab Bagh And Zoo)

    Rose Garden

    यह ज़ू गुलाब बाग में स्थित है। यहाँ विभिन्न प्रकार के गुलाब देखने को मिलेंगे। बाग में ही एक छोटा ज़ू है जिसमें कुछ चुनिंदा जीवों को रखा गया है और बच्चों के आकर्षण के लिए यहाँ टॉय ट्रेन भी है। साथ ही बाग में कमल तलाई नामक एक कृत्रिम जल धारा भी है जिसके पास बैठकर आप शांति प्राप्त कर सकते हैं। धार्मिक अनुभूति के लिए इसके अंदर नवलखा महल है जो बुज़ुर्गों को भक्ति में डूबोएगा। अगर आप इस एक जगह आते है तो आप एक ही साथ अलग-अलग रुचियों के स्थान देख पाएंगे।

    और जानें: A Guide To Udaipur Honeymoon

    10. सहेलियों की बाड़ी (Saheliyon-Ki-Bari)

    The lotus pool at Saheliyon Ki Bari makes it a popular place to visit in Udaipur

    फतह सागर झील के किनारे पर स्थित इस अत्यंत सौंदर्य पूर्ण बगीचे का निर्माण महाराणा संग्राम सिंह ने करवाया था। जैसा कि आप नाम से समझ पा रहे होंगे कि इसे उन सहेलियों के लिए बनवाया गया था जो विवाह के पश्चात राजकुमारी के साथ आई थी। फूलों की बिछी चादर,पानी के फव्वारें इस जगह को रमणीय बनाते है। सभी का मानना यह है कि अगर उदयपुर में सबसे मनोरम कोई जगह है तो वो यही है जहाँ आप अपने परिवार और मित्रों के साथ या अकेले भी जा सकते हैं।

    और जानें: Resorts Near Udaipur

    11. इकलिंगजी मंदिर (Eklingji Temple)

    _Ikalingji Temple

    यह मंदिर भगवान शिव को समर्पित है जो उदयपुर से 22 किमी की दूरी पर स्थित है। इसकी अदम्य वास्तुकला आपको अचंभित कर देगी। यही कारण है कि यह पर्यटक स्थलों में अव्वल दर्जे पर आता है। यह दो मंज़िला मंदिर है जिसकी छत को पिरामिड का आकार दिया गया है। मंदिर के बरामदे में घुसते ही आपको चाँदी से बनी सुंदर नंदी की प्रतिमा देखने को मिलेगी। अंदर भी दो प्रतिमाएँ मिलेंगी, जिनमें एक काले पत्थर की बनी है और दूसरी पीतल से। मंदिर में शिव जी की चतुर्मुखी मूर्ति है, जिसे काले मार्बल से बनाया गया है। यह 50 फीट की विशाल प्रतिमा है।

    और जानें: Restaurants In Udaipur

    12. नाथद्वारा मंदिर (Nathdwara Temple)

    shri hari temple

    राजस्थान के उदयपुर जिले से 42 किलोमीटर उत्तर-पूर्व की ओर स्थित नाथद्वारा शहर, जो कभी सिहाड़ ग्राम के नाम से जाना जाता था, में प्रभु श्रीनाथजी मन्दिर में विराजमान हैं श्रीनाथजी।अतुलनीय कलाकृति व सुंदर मूर्तियों क सौंदर्य देखते ही आँखों में भर लेने का मन करता है। भक्तों की श्रद्धा इतनी गहरी है कि वे समय निकालकर बस यहाँ आ जाना चाहते हैं। भक्ति-भाव व शांति का माहौल इसकी सबसे आकर्षक बात है।

    13. जग मंदिर पैलेस (Jag Mandir Palace)

    _Jag Mandir Palace

    इस्लामिक वास्तुकला से बने इस महल का अन्य नाम है – “द लेक गार्डन पैलेस”। इसे संगमरमर व पीले बलुआ पत्थर से बनाया गया है। इसे आठ भव्य आकार की हाथी की मूर्तियों ने घेर रखा है, मानो ये हाथी इसकी रखवाली कर रहें हों। पिचोला झील के दक्षिणी द्वीप पर यह सौंदर्यपूर्ण महल स्थित है। चारों ओर झिलमिलाता पानी व उसके बीच में यह अद्भुत चमकता महल अपनी सुंदरता की गवाही देता है।

    और जानें: Homestays In Udaipur

    14. बड़ा महल (Bada Mahal)

    _Big castle

    राजपूत व मुगल वास्तुकला द्वारा बना ये महल वो हिस्सा है जो मुख्य रूप से आदमियों के लिए बना है। चारों ओर से सुंदर बगीचे से सजा महल वातावरण को शोभित कर देता है। राजस्थान के ऐतिहासिक महलों में शामिल यह महल अपनी प्राचीनता को बनाए रखते हुए भी आज एक आकर्षक दर्शनीय स्थल है। इसके सुंदर बगीचों के वजह से इसको गार्डन पैलेस भी कहा जाता है।

    15. महाराणा प्रताप स्मारक (Maharana Pratap Samarak)

    Maharana Pratap Memorial

    भारतीय इतिहास के महान योद्धा का राजस्थान में बहुत महत्व है। यह स्मारक उनकी वीरता की गवाही देता है। फतह सागर झील के किनारे पर इस स्मारक को बनाया गया है। चेतक पर बैठे महाराणा प्रताप अपने शौर्यवान बलिदान की गाथा कहते हैं। 11 फीट ऊँची इस प्रतिमा को पीतल से बनाया गया है। उदयपुर आकर इस प्रतिभावान मूर्ति को देखना अपने आप में एक अलग ही गर्व की बात है।

    और जानें: Holi In Udaipur

    16. शिल्प ग्राम (Village Shilp)

    Craft Village

    भारत के राज्यों में राजस्थान एक ऐसा राज्य है जो कला आदि को बहुत महत्व देता है और यहाँ की कला है भी बेहद प्रसिद्ध। कला हो या हस्तकला या पारंपरिक नृत्य व संगीत, कठपुतलियों के नाटक आदि – ये सभी आधुनिकता के बावजूद भी अपना अस्तित्व बनाए हुए है। उदयपुर से 3 किमी की दूरी पर हवाला गाँव के निकट यह स्थित है। आपको उत्तम श्रेणी की कलाकारी देखने का अवसर प्राप्त होगा।

    17. नेहरू गार्डन (Nehru Garden)

    Nehru Garden

    फतह सागर झील के बीचों-बीच बसे इस बगीचे में विभिन्न प्रकार के पानी के फव्वारे हैं जो मैसूर के बृंदावन गार्डन से मिलते-झुलते हैं। कल्पना कीजिए एक तैरते हुए रेस्टोरेंट की जो नाव के आकार का हो। रुकिए, आपको कल्पना करने की बिल्कुल ज़रूरत नहीं है क्योंकि यह हकीक़त है। आप रेस्टोरेंट में बैठे खाने का लुत्फ़ उठा रहे हो और आस-पास हो सुंदर नज़ारा। वाह! इसका तो कोई जवाब ही नहीं।

    और जानें: Things To Do In Udaipur

    18. भारतीय लोक कला म्यूज़ियम (Bharatiya Lok Kala Mandal)

    Indian Folk Art Museum

    उदयपुर का ये संग्राहलय बहुत मशहूर है। राजस्थानी संस्कृति को बनाए रखने का स्त्रोत जो आपको मेवाड़ इलाके की अद्भुत विरासत का नमूना दिखाएगा। यहाँ कुछ पारंपरिक वस्तुएँ व कलाकृतियाँ को सँजो के रख गया है। यह कला शिक्षा का केंद्र भी है जहाँ स्थानीय कलाकर व अन्य लोग कला साहित्य के बारे में जानते व समझते हैं। यहाँ आकर आप खुद को भाग्यशाली समझेंगे क्योंकि इतनी अद्भुत कलाकारी आपको यहाँ देखने को मिलेगी।

    19. अमब्रई घाट (Ambrai Ghat)

    Umbrai Ghat

    उदयपुर का सबसे चर्चित घाट जिसे मंझी घाट भी कहा जाता है। सुबह-सुबह यहाँ आपको स्थानीय लोग योगा करते व स्नान करते हुए दिखेंगे। सिर्फ स्थानीय लोग ही यहाँ पर्यटकों का भी खूब आना-जाना होता है। शाम के वक्त आप यहाँ बैठकर शहर की टिमटिमाती लाईटों को देखकर अपनी शाम को खूबसूरत बना सकते हैं। आरती का मधुर स्वर वातावरण को धार्मिक बना देता है।

    और जानें: Boutique Hotels In Udaipur

    20. हाथी पोल बाज़ार (Haathi Pol Bazaar)

    Elephant Pole Market

    अपनी खरीदारी करने की इच्छा को आप यहाँ आकर पूरा कर सकते है। यहाँ आपको चर्चित ब्रैण्ड से लेकर स्थानीय वस्तुएँ मिलेंगी। राजस्थान की पारंपरिकता को झलकाती वस्तुएँ, रंग-बिरंगे हाथ से रंगे राजस्थानी दुपट्टे, चाँदी के आभूषण, सजावटी सामान आदि। यह बाज़ार मुख्य रूप से मिनीएचर पेंटिंग, इच्छवई पेंटिंग व रेशम के कपड़े पर हाथ से की गई पेंटिंग के लिए मशहूर है। यहाँ से आप एक अच्छी याद घर ले जा सकते हैं।

    और जानें: Resorts Near Udaipur

    उदयपुर के पर्यटन आपको राजा-महाराजाओं के तौर-तरीकों, उनकी रुचियों, इतिहास, आदि से पूर्णतः अवगत करवा देंगे। शानदार, आलीशान महलों को देखकर आप तृप्त हो जाएंगे और कुछ पलों के लिए ये पूरी तरह भूल जाएंगे कि आप कहीं और से यहाँ विचरण करने आए हैं क्योंकि कुछ ही पलों में इस जगह ने आपको अपना बना लिया होगा। एक बार अवश्य यहाँ आकर खुद को इस जगह के हवाले करके देखिए। अपनी उदयपुर यात्रा के लिए ट्रैवल ट्राऐंगल से बुकिंग कीजिए।

    उदयपुर दर्शनीय स्थल के विषय पर अक्सर पूछे जानेवाले सवाल

    प्र. उदयपुर किस लिए मशहूर है?

    उ. जैसा कि सभी जानते हैं कि उदयपुर “झीलों का शहर” है। यह अपनी प्राकृतिक सुंदरता, संस्कृति व पारंपरिकता को बरकरार रखने के लिए व कलाकृति के लिए विश्व भर में मशहूर है।

    प्र. उदयपुर का सबसे आकर्षक स्थान कौनसा है?

    उ. पिचोला झील उदयपुर का सबसे आकर्षक स्थान है जिसे आपको प्राथमिकता देनी चाहिए। सराहनीय व सौंदर्यपूर्ण दृश्य आपको अपने वश में कर लेगा। आप यहाँ किसी के साथ भी आ सकते हैं। आपको आनंदमयी करने का वादा यह झील आपसे करेगी।

    Looking To Book A Holiday Package?

    Book memorable holidays on TravelTriangle with 650+ verified travel agents for 65+ domestic and international destinations.


    और पढ़ें

    Comments

    comments

    Category: Places To Visit, Udaipur

    Best Places To Visit In India By Month

    Best Places To Visit Outside India By Month